पुलिस के नाम पर धमकाने वाला आरोपी धराया, नकली पुलिस वाला बनकर धमका रहा था आरोपी

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

  • आरोपी से चोरी का दो पहिया वाहन भी हुआ बरामद।
  • सिविल इंजीनियर ने नौकरी पर आने जाने में परेशानी होने के कारण
  • चोईथराम मण्डी से चुराई थी होण्डा शाईन गाड़ी
  • वाहन बरामद कर आरोपी को किया थाना भवंरकुआ पुलिस के सुपुर्द

इंदौर। क्राईम ब्रांच इंदौर की टीम शहर में से चोरी गये दो पहिया वाहनों की पतासाजी के दौरान मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि भंवरकुआ थाना क्षेत्र में एक लड़का चोरी की बाईक लेकर  घूम रहा है,  मुखबिर की सूचना पर कार्यवाही करते हुये हुलिये के आधार पर उपरोक्त वाहन चोर युवक की तलाश हेतु क्राईम ब्रांच की टीम द्वारा थाना भंवरकुआं क्षेत्र में निगरानी शुरू की गई इसी दरमियान एक संदिग्ध युवक उमेश पिता सुरेन्द्र ओझा उम्र 26 निवासी ग्राम मिहाना, जिला गुना हाल मुकाम सांई विहार कॉलोनी, थाना राऊ, जिला इन्दौर को पुलिस टीम द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा जिसके पास होण्डा कंपनी का दो पहिया वाहन शाईन भी था।

संदेह के आधार पर उपरोक्त युवक से उसके पास दो पहिया वाहन क्रमांक MP 09 NT 5510 इंजन नंबर JC36E7249868 होण्डा शाईन के संबंध में वैधानिक दस्तावेज तलब किये गये जो आरेापी ने उसके पास नहीं होना बताये आरोपी के पास उपरोक्त वाहन के दस्तावेज उपलब्ध ना होने तथा उक्त  वाहन चोरी का होने के संदेह के आधार पर संदेही व्यक्ति उमेश पिता सुरेन्द्र ओझा को पुलिस टीम द्वारा अभिरक्षा में लिया गया जिससे पूछताछ करने पर उसने बताया कि वह मूल रूप से गुना का रहने वाला है व लगभग 3 वर्षों से इन्दौर में अपनी बहन के यहाँ राऊ में रहता है तथा उसने सिविल ब्रांच से इंजीनियरिंग की पढाई की है जोकि कंसट्रक्शन साईट्स पर सुपरवाईजर के पद पर काम करता है।

आरोपी ने उपरोक्त दो पहिया वाहन के संबंध में खुलासा किया कि पास उसके खुद का कोई वाहन ना होने के कारण उसको नौकरी पर पर आने-जाने में परेशानी होती थी जिसके चलते आरोपी उमेश ने उपरोक्त वाहन को चोईथराम मण्डी, इंदौर पास से चुरा लिया था। आरोपी के कब्जे से चोरी का दो पहिया वाहन बरामद कर उसे पकडकर थाना भंवरकुआ के अपराध क्रमांक 736/18 धारा 379 भादवि के प्रकरण में अग्रिम कार्यवाही हेतु सुपुर्द किया गया जिससे अन्य चोरी गये वाहनों के बारे में भी विस्तृत पूछताछ की जा रही है।

आरोपी ने बताया कि उसके साथ कंसट्रक्शन कंपनी में काम करने वाला सहकर्मी उसकी प्रेमिका से बात चीत करता था इस बात की भनक जब आरोपी को लगी तो उसने अपने सहकर्मी को स्वयं को राउ पुलिस थाने का अधिकारी बताते हुये धमकाया कि वह आगे से उस लड़की से कभी बात चीत ना करे लेकिन उसके सहकर्मी ने यह आम भांप ली कि वह कोई फर्जी व्यक्ति बोल रहा है

जिसने आरोपी को मिलने के लिये बुलाया परंतु आरोपी जिस वाहन से मिलने गया उस पर नम्बर प्लेट नहीं थी जिसकी सूचना उस व्यक्ति ने क्राईम ब्रांच को कर दी बाद क्राईम ब्रांच ने मौके से बरामद वाहन की तस्दीक की तो ज्ञात हुआ कि उपरोक्त वाहन थाना भवंरकुआ क्षेत्र से चोरी गया है जिसकी रपोर्ट थाना भवरंकुआ पर अपराध क्रमांक 736/18 धारा 379 भादवि के तहत दर्ज है अतः पुलिस ने आरोपी उमेश को पकड़कर चोरी का वाहन जप्त कर लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *