कलेक्ट्रेट नरसिंहपुर में जनसुनवाई में 52 आवेदन प्राप्त कलेक्टर ने अधिकारियों को दिया निर्देश समय सीमा में करें निराकरण

Spread the love

ANI NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

नरसिंहपुर. कलेक्ट्रेट में हुई जनसुनवाई में जिले के विभिन्न क्षेत्रों से पहुंचे लोगों की समस्याओं को कलेक्टर अभय वर्मा ने ध्यानपूर्वक सुना और निराकरण के लिए अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये। कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि जनसुनवाई के प्रकरणों का निराकरण तय समय सीमा में तत्परता से हो।

प्रकरणों के निराकरण में देरी नहीं होना चाहिये। अपर कलेक्टर जे समीर लकरा और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आरपी अहिरवार ने भी लोगों की समस्यायें सुनी तथा अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई के लिए निर्देशित किया। जनसुनवाई में 52 आवेदन आये। जनसुनवाई में एसडीएम महेश कुमार बमनहा, उप संचालक कृषि आरके गणेशे, जिला कार्यक्रम अधिकारी एकीकृत बाल विकास  सेवा श्वेता जाधव, जिला संयोजक आदिम जाति कल्याण रेखा पांचाल और विभिन्न विभागों के जिला प्रमुख मौजूद थे।

जनसुनवाई में छीतापार निवासी एक महिला अपने वृद्ध पिता को लेकर उपस्थित हुई और कहा कि उनके दो भाई हैं वे पिता की खेती की जमीन का उपयोग करते हैं, परंतु पिता को न तो साथ रखते हैं, न ही देखभाल करते हैं और न ही उनकी दवा आदि का खर्चा देते हैं। पिता की देखभाल पुत्रियों द्वारा की जा रही है। पुत्रियों की आर्थिक स्थिति भी ठीक नहीं है, जिससे बीमार पिता के इलाज कराना भी कठिन हो रहा है। कलेक्टर ने एसडीएम नरसिंहपुर को इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये। इसी प्रकार गाडरवारा के ग्राम पचामा की पार्वती बाई पति घनश्याम लोधी ने बहू- बेटे द्वारा प्रताड़ित करने की समस्या बताई।

जिस पर कलेक्टर ने एसडीएम गाडरवारा को आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये। हनुमान वार्ड करेली निवासी महिला सुमंत्रा बाई ने कलेक्टर को अपनी समस्या बताते हुए कहा कि उसके पति नारायण प्रसाद चौधरी शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में लेब टेक्नीशियन के पद पर कार्यरत थे। विगत 8 मई 2015 से घर से गुम हो जाने से बच्चों के पालन- पोषण में परेशानी हो रही है। गुम हो जाने की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई गई है। पति के स्वत्वों का भुगतान भी नहीं हो पा रहा है। जिस पर कलेक्टर ने जिला कोषालय अधिकारी को बुलाकर विशेष प्रकरण मानते हुए आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिये।

करेली तहसील के ग्राम मोहद निवासी मंशाराम गौंड़ ने कृषि भूमि का सीमांकन पंचों के समक्ष कराने के लिए आवेदन दिया। जिस पर तहसीलदार करेली को आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये गये। तहसील नरसिंहपुर के ग्राम मुढ़िया के गिरीराज ने शासकीय जमीन से अतिक्रमण हटाने के लिए आवेदन दिया। उन्होंने बताया कि अतिक्रमण होने से सामाजिक कार्यों में परेशानी आती है। जिस पर कलेक्टर ने नरसिंहपुर तहसीलदार को आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये।

जनसुनवाई में नरसिंहपुर के धनारे कॉलोनी निवासी राजेश चौरसिया ने 12 दिसम्बर की रात्रि में दुकान में आग लगने से बड़ी क्षति होने पर क्षतिपूर्ति दिलाने के लिए आवेदन दिया। जिस पर कलेक्टर ने अनुविभागीय राजस्व अधिकारी नरसिंहपुर को अग्नि दुर्घटना के तहत कार्रवाई करने के निर्देश दिये। कल्याणपुर निवासी लतीफ खान ने गाड़ी के कागजात दिलाने के लिए आवेदन किया। जिस पर कलेक्टर ने आरटीओ को आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये। करकबेल निवासी देवीप्रसाद सेन ने अपनी समस्या बताते हुए कहा कि उनकी नातिन वैभवश्री दोनों पैरों से विकलांग है।

उसे विकलांग छात्रवृत्ति का लाभ नहीं मिल रहा है। इस पर कलेक्टर ने सीईओ जनपद गोटेगांव को आवश्यक निर्देश दिये। ग्राम पंचायत कल्याणपुर के अनेक मजदूरों ने सीसी रोड निर्माण में किये गये कार्य की मजदूरी दिलाने के लिए आवेदन दिया। जिस पर कलेक्टर ने जनपद सीईओ नरसिंहपुर को मजदूरी दिलाने के निर्देश दिये। सिहोरा- बोहानी की मायाबाई जाटव ने प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ देने की मांग की, जिस पर जनपद सीईओ चांवरपाठा को आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये।

जसुनवाई में शंकर वार्ड नरसिंहपुर निवासी टीकाराम जाटव ने प्रधानमंत्री आवास योजना की राशि नहीं मिलने की समस्या बताई, जिस पर मुख्य नगर पालिका अधिकारी नरसिंहपुर को आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *