हॉस्टल में 8वीं की छात्रा ने दिया बच्चे को जन्म, किसी को नहीं लगी प्रेग्नेंसी की भनक

Spread the love

भुवनेश्वर। ओडिशा के कंधमाल जिले के सरकारी आदिवासी आवासीय स्कूल में एक नाबालिग छात्रा ने एक बच्ची को जन्म दिया है। वह आठवीं क्लास की छात्रा है। लेकिन सबसे हैरानी की बात तो ये है कि यह नाबालिग छात्रा कब और कैसे प्रेगेंट हुई इसकी जानकारी ना ही स्कूल प्रशासन को है और ना ही परिजनों को। प्रेगेन्ट होने की बात तो तब सामने आई जब नाबालिग ने बच्ची को को जन्म दिया।

घटना सामने आने के बाद प्रशासन ने आनन फानन में छात्रावास के छह कर्मचारियों के खिलाफ रविवार को कार्रवाई की। वहीं छात्रा और नवजात को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बता दें कि ओडिशा के जनजातीय एवं ग्रामीण विकास विभाग की ओर से संचालित सेवा आश्रम हाई स्कूल कंधमाल के दरिंगबाड़ी में स्थित है। स्थानीय लोगों की माने तो नाबालिग करीब नौ महीने पहले प्रेगेन्ट हो गई थी। उसके साथ किसी ने रेप किया है।

हालांकि किसने और कब किया इसकी भनक किसी को लगी और ना ही पीड़िता ने किसी को बताया। पीड़िता को हॉस्टल में ही प्रसव पीड़ा हुई इसके बाद उसने कमरे मं ही बच्चे को जन्म दिया। वही इस संबंध में एसपी ने कहा कि जैसे ही सूचना मिली पुलिस ने आरोपी को पकड़ लिया है। जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। वहीं इस संबंध ने कंधमाल जिला कल्याण अधिकारी चारूलता मलिक ने कहा कि आठवीं कक्षा में पढ़ने वाली 14 साल की छात्रा ने शनिवार को छात्रावास में ही बच्ची को जन्म दिया। जिसके बाद उसको स्थानीय लोगों ने अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *