चॉकलेटी चेहरे के जवाब में कांग्रेसी मंत्री की हेमा पर अभद्र टिप्पणी

Spread the love

प्रियंका गांधी की सियासत में एंट्री के साथ ही बयानबाजी का दौर जारी है. बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय के ‘चॉकलेटी चेहरे’ वाले बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए एमपी सरकार के मंत्री और कांग्रेस नेता सज्जन सिंह वर्मा ने कहा है कि बीजेपी के पास चिकने चेहरे हैं ही नहीं. कांग्रेस नेता ने कहा कि बीजेपी का दुर्भाग्य है कि उसके पास खुरदरे चेहरे हैं.

एमपी के लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा, “बीजेपी का दुर्भाग्य है कि उनकी पार्टी में खुरदरे चेहरे हैं, ऐसे चेहरे जिनको लोग नापसंद करते हैं.” सज्जन सिंह वर्मा ने आगे बीजेपी सांसद और जानी-मानी अभिनेत्री हेमामालिनी पर विवादित टिप्पणी करते हुए कहा कि बीजेपी में एक हेमामालिनी हैं जिन्हें वोट के लिए बीजेपी के नेता नृत्य कराते रहते हैं. सज्जन सिंह वर्मा ने आगे कहा, “एक हेमा मालिनी है, उसको जगह-जगह शास्त्रीय नृत्य कराते रहते हैं, वोट कमाने की कोशिश करते हैं…चिकने चेहरे उसके पास नहीं हैं.”

कांग्रेस नेता ने कहा कि मानव ईश्वर द्वारा दिया गया होता है, और हमें ईश्वर की सराहना करनी चाहिए. उन्होंने कहा, “अरे सराहना करो कि ईश्वर ने प्रियंका गांधी को इतना सुंदर बनाया है जिससे ममत्व, स्नेह झलकता है…ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करके अपनी गरिमा कैलाश जी और बीजेपी गिरा रही है.”

बता दें कि बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने प्रियंका गांधी की राजनीति में एंट्री पर टिप्पणी करते हुए इंदौर में कहा था कि कांग्रेस चॉकलेटी चेहरों के बूते अगला लोकसभा चुनाव लड़ना चाहता है. इंदौर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कैलाश विजयवर्गीय ने कहा था, “कभी कोई कांग्रेस नेता मांग करता है कि करीना कपूर को भोपाल से लोकसभा चुनाव लड़वाया जाए, तो कभी इंदौर से चुनावी उम्मीदवारी को लेकर सलमान खान के नाम पर चर्चा की जाती है, इसी तरह, प्रियंका को कांग्रेस की सक्रिय राजनीति में ले आया जाता है.”

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि “उनके पास नेता नहीं है, इसलिए वो चॉकलेटी चेहरे के माध्यम से चुनाव में जाना चाहते हैं, ये उनके अंदर आत्मविश्वास की कमी को दिखाता है…कोई करीना कपूर के माध्यम से चुनाव में जाना चाहता है, कोई सलमान का, कभी प्रियंका गांधी को ले आते हैं.”

बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव 2019 से पहले प्रियंका गांधी को पूर्वी उत्तर प्रदेश का महासचिव नियुक्त किया है. प्रियंका 4 फरवरी को अपना पदभार संभाल सकती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *