सुकमा: नक्सलियों से मुठभेड़ के बाद 21 जवान लापता, गृह मंत्री बोले- शांति के दुश्मनों के खिलाफ जारी रहेगी लड़ाई

Spread the love

 ANI  NEWS INDIA @ http://aninewsindia.com

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 9893221036

 

रायपुर : छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में शहीद जवानों की संख्‍या बढ़कर 22 हो गई है। इलाके में लगातार सर्च ऑपरेशन जारी है। बताया जा रहा है कि नक्‍सलियों ने सुरक्षा बलों के पास से दो दर्जन से अधिक हथियार भी छीन लिए। देश के गृह मंत्री और छत्‍तीसगढ़ के सीएम ने कहा कि जवानों की शहादत व्‍यर्थ नहीं जाएगी। शांति व प्रगति के दुश्‍मनों के खिलाफ संघर्ष जारी रहेगा।

इस बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने छत्‍तीसढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल से बात कर हालात का जायजा लिया है। शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उन्‍होंने कहा कि देश उनके साहस व शौर्य को हमेशा याद रखेगा। नक्‍सलियों को ‘शांति व प्रगति का दुश्‍मन’ करार देते हुए उन्‍होंने कहा कि इनके खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी। सीआरपीएफ के महानिदेशक कुलदीप सिंह भी रविवार सुबह हालात का जायजा लेने यहां पहुंचे।

4 घंटे चली थी मुठभेड़

नक्‍सलियों ने शनिवार दोपहर लगभग 12 बजे बीजापुर-सुकमा जिले की सीमा पर सुकमा जिले के जगरगुंड़ा थाना क्षेत्र के अंतर्गत जोनागुड़ा गांव के करीब सुरक्षा बलों पर हमला कर दिया था, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हुई। इससे पहले शुक्रवार रात बीजापुर और सुकमा जिले से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के कोबरा बटालियन, डीआरजी और एसटीएफ के संयुक्त दल को नक्सल विरोधी अभियान के लिए रवाना किया गया था। इसमें बीजापुर जिले के तर्रेम, उसूर और पामेड़ से तथा सुकमा जिले के मिनपा और नरसापुरम से लगभग दो हजार जवान शामिल थे।

नक्सलियों की पीएलजीए बटालियन तथा तर्रेम के सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ हुई। छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को बताया कि मुठभेड़ करीब 4 घंटे से अधिक समय तक चली। बघेल इस समय असम में हैं, जहां वह कांग्रेस के पक्ष में चुनाव प्रचार के लिए गए हुए थे। उन्‍होंने रविवार शाम तक राज्‍य लौटने की बात कही है। उन्‍होंने कहा कि मुठभेड़ में नक्‍सलियों को बड़ा नुकसान हुआ है।

इस बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इस मसले को लेकर छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल से बात की और हालात का जाजया लिया। नक्‍सलियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि राष्‍ट्र उनके शौर्य व बलिदान को कभी नहीं भूलेगा। पीड़‍ित परिवारों के प्रति संवेदना जताते हुए उन्‍होंने कहा, ‘शांति व प्रगति के दुश्‍मनों के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी।’

इस मुठभेड़ में कोबरा बटालियन के एक जवान, बस्तरिया बटालियन के दो जवानों और डीआरजी के दो जवान शहीद हुए हैं, जबकि 30 घायल हुए हैं। घायलों में से सात का इलाज रायपुर के अस्पताल में किया जा रहा है, जबकि 23 जवानों का इलाज बीजापुर के अस्पताल में किया जा रहा है। छत्‍तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने शहीद जवानों के परिजनों से संवेदना जताते हुए कहा कि उनकी शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी। नक्सलियों के खिलाफ सुरक्षा बल और तेजी से अभियान चलाएंगे। उन्‍होंने घायल जवानों को बेहतर इलाज मुहैया कराने के निर्देश भी दिए।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!